Breaking News
BigRoz Big Roz
Home / Breaking News / अंतर्राष्टीय लाल सेब दिवस 1 दिसम्बर व 17 सितंबर को राष्टीय सेब दिवस पर कविता इन दोनों दिवस पर सेब के स्वास्थजन्य गुणों को अपनी ज्ञान कविता के माध्यम से बता रहें है, स्वामी सत्येंद्र सत्यसाहिब जी

अंतर्राष्टीय लाल सेब दिवस 1 दिसम्बर व 17 सितंबर को राष्टीय सेब दिवस पर कविता इन दोनों दिवस पर सेब के स्वास्थजन्य गुणों को अपनी ज्ञान कविता के माध्यम से बता रहें है, स्वामी सत्येंद्र सत्यसाहिब जी

ऐन ऐपल अ डे कीप्स द डॉक्टर अवे यानी
रोज एक सेब खाइए, डॉक्टर के पास कभी न जाइये।।
ये कहावत तो आपने अपने बचपन से अबतक सुनी होगी। लेकिन इन दिनों बाजार में लाल सेब के साथ-साथ ग्रीन ऐपल यानी हरा सेब भी मिल रहा है।दोनों की अपने अपने स्वास्थ फायदे है।
आज के स्वास्थ विशेषज्ञों के अनुसार कुछ प्रयोग ये बताते है कि लाल की जगह हरा सेब खाना ज्‍यादा फायदेमंद हो सकता है क्‍योंकि यह सभी तरह के फायदों के साथ ही दिल की ओर दिमाग के साथ पेट के सभी प्रकार की कब्ज संबंधित सारी बीमारियों को भी दूर भगाता है। हरा सेब यानी ग्रीन ऐपल में कई तरह के प्रोटीन, विटमिन, खनिज और फाइबर पाए जाते हैं। इसके अलावा ये पाचन संबंधी सभी विकारों से राहत प्रदान करने के लिए भी जाना जाता है।यो इस सब गुणों के चलते हुए सेब का भी अमेरिका को 2 दिसम्बर को लाल सेब खाओ दिवस मनाया जाता है ओर 17 सितम्बर को मनाया जाता है नेशनल एपल डमपलिंग डे।जिसमे सेब की अनेको तरहां की आइसक्रीम आदि व खाने के पदार्थ बनाये जाते है।
इसी सेब दिवस पर सेब के अनेको लाभों को लेकर ये कविता कहता हूं कि,

सेब पर कविता

सेब नाम बना तीन अक्षर से
स सेहत बने ऐ ऐब मिटे सब।
ब बने सेब खा खूब बलवान
यो सेब नाम दिया उस रब।।
सेब ईश्वर का पहला सेहत उपहार
इसे खा कर हुआ आदम हव्वा प्यार।
इसे ही देव दिव्य फल कहते
ये प्रतीक महोब्बत दिल नर नार।।
बर्फीली घाटी ये फलता
हरी पत्तियों बीच झांक कर।
हरा पीलापन रंग लाल ले
हर मानुष खाये बिन फांक काट कर।।
हरा सेब खाये शुगर का रोगी
जिसमें सेहत के है सारे गुण।
लाल सेब है और रसीला
जो जैसा खाये बने निरोग निपुण।।
दांत दिमाग पेट विकार सब
मिटते खाकर सेब हर रोग।
मधुमेह रोग थमे केंसर
न बढ़े वजन मिटे कब्ज का रोग।।
बढ़ती उमर रुके सेब खा
दिल का दौरा पड़े नहीं।
नसों में जमे नहीं खून के थक्के
खुश रहे मन हर जगहां कहीं।।
यो रोज खाओ एक सेब
सेहत रहे सदा स्वस्थ।
डॉक्टर पड़े न वास्ता
मन तन से सदा रहोगे मस्त।।

जय सत्य ॐ सिद्धायै नमः
स्वामी सत्येंद्र सत्यसाहिब जी
Www.satyasmeemission.org

Follow us :

Check Also

कथित Dog Lovers ने जयेश देसाई को बदनाम करने में कोई कसर नहीं छोड़ी

आजकल एनिमल लवर्स का ऐसा ट्रेंड चल गया है कि जरा कुछ हो जाये लोग …

Leave a Reply

error

Enjoy khabar 24 Express? Please spread the word :)

RSS
Follow by Email
YouTube
YouTube
Pinterest
Pinterest
fb-share-icon
LinkedIn
LinkedIn
Share
Instagram
Telegram
WhatsApp