Breaking News
BigRoz Big Roz
Home / Breaking News / आज 5 जनवरी को नए साल का पहला सूर्य ग्रहण, जाने किन राशियों पर रहेगा इसका असर? क्या मिलेगा लाभ, क्या होगा नुकसान? बता रहे हैं महातपस्वी श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज

आज 5 जनवरी को नए साल का पहला सूर्य ग्रहण, जाने किन राशियों पर रहेगा इसका असर? क्या मिलेगा लाभ, क्या होगा नुकसान? बता रहे हैं महातपस्वी श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज


आज 5 जनवरी को अमावस्या पर सूर्यग्रहण पड़ रहा है। यह भले विश्व के कई देशों में न देखने को मिले लेकिन इसका असर हर जगह होगा। यह सूर्यग्रहण भारत में भी दिखाई नहीं देगा लेकिन असर सब जगह होता है।


5 जनवरी को अमावस्या तथा सूर्य ग्रहण और शनिवार का होगा योग, मिलेगा इन 4 राशियों को विशेष लाभ-बता रहें हैं- स्वामी सत्येंद्र सत्यसाहिब जी…

नए साल 2019 का पहला सूर्य ग्रहण 5 और 6 जनवरी को लग रहा है। इसके अलावा साल 2019 में तीन सूर्य ग्रहण और भी देखने को मिलेंगे।इस साल पहला ग्रहण 6 जनवरी को पड़ेगा,तथा दूसरा 2 जुलाई को पड़ेगा और तीसरा ग्रहण 26 दिसंबर को पड़ता दिखाई देगा।ये सूर्य ग्रहण अर्थ है-राहु का सूर्य को ग्रसित करना।और यो जिस राशि पर राहु का प्रभाव यानि दशा या महादशा या सूर्य की दशा और महादशा या अंतर्दशा चल रही होती है।यो उस राशि पर महादशा में ज्यादा और अंतर्दशा में कम पड़ेगा पर पड़ेगा जरूर।यो वे राशि वाले रहें सावधान.. वेसे वैज्ञानिकों के अनुसार यह ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा जिसके कारण ग्रहण का विशेष प्रभाव नहीं होगा। यह ग्रहण चीन, जापान, कोरिया , रूस और मंगोलिया में दिखाई देगा।पर ग्रहण पृथ्वी पर पड़ता है,तो प्रभाव अवश्य आता है।कितना आता है,ये तो उन्हीं राशियों को पता चलता है,जिनका राहु उच्च या नीच या मध्यम होता है या शनि कैसा है या सूर्य उच्च या नीच है।

ग्रहण यानि राहु और सूर्य का योग और शनि का उस पर अपना प्रभाव,क्योकि राहु और शनि का फल लगभग एक समान होता है और साथ ही अमावस्या का योग,तब क्या होगा फल आओ देखे:-

साल का पहला ग्रहण शनिवार के दिन पड़ने के कारण इसका महत्व काफी बढ़ गया है। सूर्य ग्रहण भले ही भारत में दिखाई नहीं देगा। लेकिन इस दिन शनैश्चरी अमावस्या होने की कारण से यह दिन बेहद प्रभावी होगा। शनैश्चरी अमावस्या के दिन ग्रहण होने के कारण इस दिन दान, जप-पाठ, मंत्र एवं स्तोत्र-पाठ और स्नान का भी अपना विशेष महत्व बढ़ जाता है।

पांचवां और अंतिम सूर्य ग्रहण
साल 2019 का अंतिम सूर्यग्रहण 26 दिसंबर 2019 को होगा। ये ग्रहण सिर्फ दक्षिण भारत के कुछ इलाकों में ही दिखाई देगा।

सूर्यग्रहण का ज्योतिष महत्व
वर्ष 2019 में आगमन इस बार कन्या लग्न, तुला राशि व स्वाति नक्षत्र में हो रहा है, जो सामाजिक हो या राजनैतिक या परिवारिक या व्यक्तिगत हो,उन सभी अनेक विषयों में बेहद लाभप्रद रहने वाला है। देखा जाए तो लग्नेश बुध देव, गुरु बृहस्पति के साथ पराक्रम भाव में विराजमान होकर नवम भाग्य भाव को देख रहा है। वहीं धन भाव पर शुक्र-चंद्रमा की युति एक आर्थिक संपन्नता का योग बना रही है।यो..

इन चार राशियों पर ग्रहण का रहेगा अच्छा प्रभाव:-

वृषभ राशि:- इस राशि के जातकों के लिए यह सूर्य ग्रहण कुछ अच्छा लाभदायक परिणाम देगा। आपको फसा धन की वापसी या नए कार्य या योजना या शेयर आदि से धन लाभ मिल सकता है।सदूर प्रदेश या विदेश में यात्रा का भी योग बन रहा है। अचानक आपके एश्वर्य में वृद्धि होगी।और परीक्षा में आशातीत सफलता मिलेगी।

कन्या राशि:- इन राशि वालों के लिए यह साल अनेक नई उचाईयों को देने वाला है।यदि आप कुछ पाना चाहते हैं, तो परिश्रम के साथ साथ यदि आपके इष्ट या गुरु नहीं है तो इस दिन सूर्य देव की आराधना ॐ ह्रीं सूर्याय नमः से करें।मनोइच्छा अवश्य पूरी होगी।

कुंभ राशि:-कुम्भ राशि को राहु और शनिदेव की कृपा इस ग्रहण में बढ़कर भविष्य में प्राप्त होगी।बस इस ग्रहण में अपने गुरु व् इष्ट मंत्र का जप तप दान के साथ करें।और यदि शनि और राहु ग्रह कुंडली में विशेष खराब है,तो भी आपको अवश्य कुछ न कुछ लाभ की प्राप्ति आपके कार्य के अशुभ और बिगड़ते होने पर भी सुधर कर अंत में प्राप्त होगी।घर परिवार में कोई मंगल कार्य या किसी का विवाह आदि भी आपके सहयोग से बनेगा।या आपका विवाह होना हो या आपका खोया प्रेम सम्बन्ध हो,उसमें अवश्य आपको लाभ होगा।चल रही बीमारी में भी स्वस्थ सुधार आएगा।कुल मिलाकर अनेक शुभ कार्य सम्पन्न होंगे।वर्ष का मध्य थोड़ा विरोधाभासी होगा,पर अंत आपके ही पक्ष में ही होगा।

तुला राशि:-ये ग्रहण से तुला राशि को विवाह हो या संतान सुख या नोकरी में उन्नति हो,या नए कार्य या स्थान या पद परिवर्तन हो,इन सभी विषय में अवश्य सफलता मिलेगी।बस इस ग्रहण में अपने इष्ट व् गुरु मंत्र की यज्ञ से जप साधना करें और अंत में जो बने वो दान करें,तो जो मनोइच्छा है,उसमें जो अवरोध है,वो कम होकर लाभ होगा।

इस साल 2019 में कुल 5 ग्रहण पड़ेंगे:-

साल 2019 में कुल 5 ग्रहण पड़ेंगे। जिसमे से 3 सूर्यग्रहण और 2 चंद्रग्रहण होंगे।

16-17 जुलाई को खग्रास में चंद्रग्रहण होगा।
वहीं 26 दिसंबर को दूसरा सूर्य ग्रहण होगा, जो भारत में देखा जा सकेगा।

पहला सूर्यग्रहण:-
5 जनवरी को सूर्यग्रहण होगा। ये भारत में दिखाई नहीं देगा।

दूसरा चंद्रग्रहण:-
21 जनवरी को चंद्रग्रहण होगा। ये भी पहले सूर्यग्रहण की तरह भारत में दिखाई नहीं देगा।

तीसरा खग्रास सूर्यग्रहण:-
2 जुलाई 2019 को खग्रास सूर्यग्रहण होगा। लेकिन यह भी भारत में दिखाई नहीं देगा।

चौथा खंडग्रास चंद्रग्रहण:-
16 जुलाई 2019 को खंडग्रास चंद्रग्रहण होगा। ये ग्रहण भारत में दिखाई देगा।

पांचवां और अंतिम सूर्य ग्रहण
साल 2019 का अंतिम सूर्यग्रहण 26 दिसंबर 2019 को होगा। ये ग्रहण सिर्फ दक्षिण भारत के कुछ इलाकों में ही दिखाई देगा।

क्या करें ग्रहण में शुभलाभ पाने के लिए उपाय:-
ग्रहण के समय आप अपने गुरु और इष्ट मंत्र का यज्ञ की आहुति देते अधिक से अधिक जप करें और अंत में खीर की आहुति भी दें और कुत्ते या बिजार को खीर या दूध का अधिक भोग खाने को दें और शनिमन्दिर में चना हलुवा बांटे और शनि छल्ला पहने और तेल में काले तिल मिलाकर चढ़ाये और ऐसा ही दीपक में करके जलाये।और मन्दिर में बैठकर या पीपल के नीचे बैठकर ध्यान करते अपनी प्रार्थना करें।अवश्य कल्याण होगा।





श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येंद्र जी महाराज
जय सत्य ॐ सिद्धायै नमः
www.satyasmeemission.org

Please follow and like us:
189076

Check Also

माँ पूर्णिमाँ देवी व्रत के चमत्कार, श्रीमद पूर्णिमाँ पूराण से (भाग 2), प्रेम पूर्णिमाँ व्रत द्वारा पति पत्नी में भौतिक आध्यात्मिक शक्तियों का जागरण सभी लौकिक अलौकिक मनोकामनाओं की पूर्ती, बता रहे हैं महायोगी स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज

क्या प्रेम पूर्णिमां व्रत द्धारा पति पत्नी में भौतिक और आध्यात्मिक शक्तियों का जागरण और …

One comment

  1. Somesh Dutt Sudhir

    🙏🙏प्रणाम गुरुवर🙏🙏
    🌹जयॐसत्यॐसिद्धाय नमः🌹
    गुरु जी आपने कितनी मेहनत और विवेक से जो जानकारी दी है उसका कोटि-कोटि धन्यवाद हम इस बात का अंदाजा नहीं लगा सकते कि आप ने 1 दिन में दो दो विषयों के बारे में इतनी सुक्षमता से वर्णन किया है उसका कोटि-कोटि नमन।
    🌹जयॐसत्यॐसिद्धाय नमः🌹

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enjoy khabar 24 Express? Please spread the word :)