Breaking News
BigRoz Big Roz
Home / Breaking News / 2019 में आपका भाग्य : जानें मेष और वर्षभ राशियों का भाग्यफल व राशिफल, बता रहे हैं- स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज

2019 में आपका भाग्य : जानें मेष और वर्षभ राशियों का भाग्यफल व राशिफल, बता रहे हैं- स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज


2019 में कैसा होगा भाग्य? क्या होगा खास, 2 राशियों मेष और वर्षभ का भाग्य बता रहें हैं स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज।

मेष राशिफल 2019 का वार्षिक भविष्यफल:- बता रहें हैं स्वामी सत्येंद्र सत्यसाहिब जी..

साल 2019 के प्रारम्भ में शनि – धनु राशि में, गुरु – वृश्चिक राशि में और राहु 6 मार्च, 2019 को मिथुन राशि में रहेगा। वहीं केतु धनु राशि में, गुरु राशि परिवर्तन कर 30 मार्च को धनु राशि में और फिर 25 अप्रैल को वृश्चिक राशि में गोचर कर 5 नवंबर को वापिस धनु राशि में गोचर करेगा। ये 10 अप्रैल को वक्री होकर 11 अगस्‍त को मार्गी होगा। शनि 30 अप्रैल को वक्री होकर 18 सितंबर को मार्गी होगा।

मेष का पारिवारिक जीवन:-

इस साल आपके पारिवारिक जीवन में कोई परेशानियां अचानक बिन बुलाये आ सकती हैं। गुरु वक्री होकर मार्गी होगा जिस कारण से आपके लिए अनेकों छोटी बड़ी मुसीबतें खड़ी होंगीं। आपको परिजनों,मित्रों और सहयोगियों के साथ तालमेल बनाकर चलने की बहुत जरूरत है। 6 मार्च से परिवार के किसी बड़े या बुजुर्ग सदस्‍य के साथ आपकी अनबन हो सकती है।जिससे अंतरकलह से मन और कार्य प्रभावित होंगें। नवंबर के बाद पारिवारिक जीवन बहुत हद तक सामान्‍य और अनुकूल हो पाएगा।

मेष का वैवाहिक जीवन:-

आपका वैवाहिक जीवन अपेक्षाकृत बेहतर रहेगा। थोड़ी-बहुत परेशानियां आ सकती हैं,इस सम्बन्ध में विशेष चिंता करने की जरूरत नहीं है। आपको जीवनसाथी का पूर्ण सहयोग प्राप्‍त होगा। अपने जीवन पार्टनर के साथ अच्‍छा समय बिताने का मौका मिलेगा। दोनों के बीच आपसी समझ बढ़ेगी।नए वैवाहिक जीवन वालों को फैमिली प्‍लानिंग यानि परिवारिक विस्तार के बारे में भी शुभ प्राप्ति होगी।

मेष राशि का स्वस्थ:-

आपके स्नायुमण्डल यानि जांघों, पैर, और जोड़ों एवं कंधों में दर्द की शिकायत हो सकती है। आपके ऊपर कोई बुरी नजर या गुप्त ईर्ष्या या अपना उतारा करने को काला जादू कर सकता है।सेहत में आपके अचानक से वजन भी बढ़ने की संभावना भी है।

कार्य-नोकरी-व्यवसाय:-

इस वर्ष मार्च तक आपके कार्य क्षेत्र में अन्यों की दखलन्दाजी से परेशानियां आ सकती हैं।फिर भी आपके ग्रहों की अनुकूल दशा होने के कारण आपको प्रगति मिलेगी और अच्छा अवसर मिलेगा। लेकिन मार्च के बाद सब कुछ ठीक नहीं रहेगा। कार्यक्षेत्र में अच्छे खासे उतार-चढ़ाव आते रहेंगें। आप परिश्रम और प्रयास कुछ करेंगें और आपको अपनी योजना और उसका फल कुछ और ही मिलेगा।कार्य या क्षेत्र या नौकरी बदलने के लिए ये साल ठीक बिलकुल नहीं है।यो स्थिर रहें।और अगले साल आपको कई अच्‍छे लाभकारी अवसर मिल सकते हैं।

व्‍यापार:-

इस वर्ष मार्च तक आपका व्‍यापार बढिया प्रगतिशील रहेगा। मार्च के बाद आपको इस सम्बंधित थोड़ी-बहुत परेशानी आ सकती है और आपको अनेक बार असफलता का सामना भी करना पड़ सकता है। अधिकतर समय व्‍यापार में लाभ होगा और आपको नए व्यवसायिक लोग यानि ग्राहक मिलेंगें। बड़ा हो या छोटा व्‍यापार, आपको अच्छे स्तर का लाभ होगा।

आपकी आर्थिक स्थिति:-

आपकी इस साल आर्थिक स्थिति लगभग सामान्‍य ही रहेगी। ज्‍यादा कुछ विशेष उन्नति नहीं होती दिखती है। लेकिन मार्च के बाद आपको सभी प्रकार के छोटे या बड़े निवेश को लेकर सावधान रहने की बड़ी जरूरत है।आपके साथ किसी भी प्रकार की धोखाधड़ी हो सकती हैं।मई या अगस्त के बाद और पूर्व साल निवेश किए गए पैसे में लाभ मिलने की अच्छी संभावना बनती है।

आपके प्रेम सम्बंध:-

इस साल आपके प्रेम सम्बंधों केवल सामान्‍य रहने वाले है।प्रेम संबंधों में मार्च,मई,अगस्त और नवम्बर में थोडा विचार करके संयम से चलने पर अवश्य प्रगाढ़ता आएगी।और चल रहे प्रेम संबंधों में मानसिक संतुष्टि का अहसास होगा। इस साल किसी अन्‍य विजातीय या धर्म के पार्टनर से आपको प्‍यार हो सकता है।

आप ये उपाय करें:-

1-प्रतिदिन रात्रि को अपने गुरु मन्त्र की 5 माला और गुरु चालीसा व् इष्ट मंत्र व् चालीसा का 7 बार पाठ करें।मंगल और शनिवार के दिन काले तिल की रोटी बना या बनवाकर काले बिजार या काली गाय को खिलाये या काले तिल के लड्डू का गरीब बच्चों में दान करें।
2-मार्च के बाद अपने घर की छत पर पूर्व या पश्चिम दिशा में एक सफेद झंडा पर पीली हल्दी से स्वस्तिक बनाकर दो साल तक लगाएं।और इस स्वस्तिक को उस झंडे पर हर सप्ताह के मंगलवार को अवश्य बनाते रहें।
3-और मंगलवार को अपने सिरहाने तकिये के नीचे 5 रूपये के 5 सिक्के रखें और उन्हें अगले दिन बुधवार को मन्दिर में दान कर आएं।इस उपाय से आपकी मनोकामना शीघ्र पूरी होगी।



कैसा होगा वर्षभ राशि का राशिफल जानें स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज से ।

वृषभ राशि का 2019 में भविष्यफल:-बता रहें है स्वामी सत्येंद्र सत्यसाहिब जी…

इस साल 2019 के प्रारम्भ में शनि – धनु राशि में, गुरु – वृश्चिक राशि में और राहु 6 मार्च, 2019 को मिथुन राशि में रहेगा।और वहीं केतु धनु राशि में, गुरु राशि परिवर्तन कर 30 मार्च को धनु राशि में और फिर 25 अप्रैल को वृश्चिक राशि में गोचर कर 5 नवंबर को वापिस धनु राशि में गोचर करेगा। ये 10 अप्रैल को वक्री होकर 11 अगस्‍त को मार्गी होगा। शनि 30 अप्रैल को वक्री होकर 18 सितंबर को मार्गी होगा।

आपका पारिवारिक जीवन:-

इस साल मार्च तक आपका पारिवारिक जीवन कोई विशेष नगीन रहकर केवल सामान्‍य रहेगा। इसके बाद राहु के राशि परिवर्तन करने पर आपको अनेक प्रकार की विघ्नों परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।घर परिवार के छोटे या बड़े सदस्‍यों के बीच अनावश्यक बातों को लेकर मतभेद उत्‍पन्‍न हो सकते हैं।यो अकारण तनाव बहुत समय तक बढ़ेगा।इस सबको लेकर आपका स्‍वभाव थोड़ा चिड़चिड़ा हो जाएगा।इस सबके चलते अपने से हुयी अनेक गलतियों का जिम्मा और उसका जिम्‍मेदार दूसरों को ठहरा कर उन्हें अप्रसन्न कर सकते हैं।अर्थात इस साल परिवार हो या मित्र में से किसी प्रतिष्ठित सदस्‍य के साथ गंभीर मतभेद होने की प्रबल संभावना और उससे अनेक समस्या उत्पन्न होने की गम्भीर सम्भावना है।

आपका वैवाहिक जीवन:-

आपके वर्ष कुंडली के सातवें भाव में ग्रहण योग बन रहा है।अतः मार्च तक तो आपको विशेष चिंता करने की जरूरत नहीं है,परंतु मार्च के बाद आपके लिए परिस्थिति बड़ी विकट और उलझन भरी खराब होती जाएगी।आपके साथ छोटी-छोटी बातों पर भी घर परिवार मित्र या कार्य क्षेत्र में गलतफहमियां होने लगेंगीं।विशेषकर ये समय 5 मार्च से 27 अप्रैल के बीच संबंध और ज्‍यादा खराब होने के प्रबल योग है।यो थोड़ा रात्रि चिंतन में सभी किये कार्य को लेकर चिंतन किया करें और नए सिरे से योजना बनाकर कार्य करें व् सम्बंधों को परखें और उन्हें सही करें।तब बड़ा लाभ होगा।

आपका स्वस्थ:-

आपको इस वर्ष कुछ विचित्र प्रकार से त्‍वचा विकार होने की अधिक संभावना है।पुरानी दवाई देख कर खाये और खाने में भी ध्यान रखे नहीं तो फूड प्‍वाइज़निंग की बड़ी सम्भावना है।यदि शुगर है और ह्रदय रोग है,तो वो बढ़ कर परेशानी हो सकती है।फ़रवरी और जून व् अक्टूबर में सावधानी बरतें।

आपका कार्य क्षेत्र:-

वेसे करियर के हिसाब से ये साल आपके लिए अच्‍छा विशेष नहीं है। आपकी सभी योजनाएं सम्बंधित सभी बनी हुयी उम्‍मीदें व्यर्थ और धरी रह जाएंगीं।अच्छी तरहां से काम करने पर भी उसका श्रेय आपको नहीं मिल पाएगा और को मिल सकता है।यो उकता कर आप इस साल कार्य हो या नौकरी में परिवर्तन के बारे में बिलकुल भी नही सोचें।उपेक्षा को अनदेखी करें और अपने पुराने या नए दोस्‍तों के साथ समय थोड़ा समय निकाल कर बिताएं या धार्मिकता से अवश्य जुड़े उससे अपने विशेष धैर्य बढ़ेगा और लाभ मिलेगा।जिस जातक पर राहु की दशा चल रही है उसको इस वर्ष हर क्षेत्र में लाभ और प्रमोशन मिलेगी।अप्रैल या अगस्त व् नवम्बर में ये योग बनेगे।

आपका व्‍यापार:-

इस वर्ष मंगल, राहू की महादशा या दशा से गुज़र रहे वृष राशि के व्यक्तियों के लिए बहुत अच्‍छा समय है।पर अधिकतर अन्य ग्रह दशा में आपको हर काम के अंतिम अवस्था या समाप्ति पर कोई ना कोई विध्न आने से काम में देरी जाएगी। जिसके कारण आप बड़े उखड़ जायेंगे और परेशान रहेंगें।कार्य क्षेत्र के सहयोगी के साथ इस समय आपको तालमेल बनाये रखने में और उसके साथ हिसाब किताब करने में बड़ी दिक्‍कत आ सकती है।आपके साथ अचानक धोखाधड़ी हो सकती हैं।यो एकांत में योजना बनाये और प्रभावित हुए बिना अपना कार्य करें लाभ होगा।मध्य गर्मियों में ये योग बनेगा।

आपकी आर्थिक स्थिति:-

वेसे सब मिलाकर इस वर्ष आपकी आर्थिक स्थिति अपेक्षाकृत पहले से अच्‍छी रहने वाली है।आने वाले समय पर आप अपनी बुद्धि और परिश्रम से सब कुछ संभालने में सफल रहेंगें।यो इस साल विशेष निवेश नहीं करके आपके पास जो कुछ भी है उसे बचाने या सुरक्षित रखने पर ध्‍यान दें।अपने बॉंड नही तोड़े।विशेषकर जून और सितम्बर नवम्बर में ध्यान रखें।

आपके प्रेम सम्बन्ध:-

इस साल के प्रारम्भ या मध्य में आपके प्रेम में कोई नया रिश्‍ता बन सकता है।सम्भावना ये अधिक है की आप अचानक किसी आकर्षण से चोरी-छिपे किसी के प्‍यार में पड़ सकते हैं।इस सम्बन्ध में अविवाहितों के अपेक्षा विवाहित लोगों में ऐसी संभावना प्रबल है।पूर्व प्रेम के रहते हुए भी और अपने वैवाहिक जीवन के चलते भी बाहर किसी अन्‍य के साथ शारीरिक संबंध अप्रैल या जून या सितम्बर व् नवम्बर माह के मध्य बना सकते हैं।जो आपके लिए अस्थायी ही सिद्ध होगा और आपको पछतावे का अनुभव करायेगा।

लाभकारी उपाय:-

वेसे तो किसी भी तरह के अनावश्यक आकर्षण सम्बन्ध या ऐसी मित्रता या कार्य से दूर रहे तो ही अच्छा रहेगा।फिर भी निम्न उपायों से बड़ा लाभ मिलेगा।

गुरु मंत्र और गुरु या इष्ट चालीसा का नित्य पाठ करें।और बैल या भैसे को मंगल और शनिवार को अधिक सा भोजन घर से बनवाकर या बाजार से खरीदकर खिलाये या उसे चारा दें।इस वर्ष एक चांदी का सिक्का जिस पर गुरु मन्त्र या इष्ट मन्त्र लिखा हो उसे अपने पर्स में शुक्रवार के रखे और रखें रहे।शुक्रवार को एक दानपात्र खरीदकर किसी मन्दिर में भेंट करें और उसमें जब भी मन्दिर जाये अवश्य कुछ दान डालेंगे तो आपको जीवन के सभी क्षेत्रों में मनचाहा बड़ा लाभ मिलेगा।



स्वामी सत्येंद्र सत्यसाहिब जी
जय सत्य ॐ सिद्धायै नमः
www.satyasmeemission.org

Please follow and like us:
189076

Check Also

श्रीगंगानगर के घड़साना में पर्यावरण के प्रति जागरूकता रैली, छात्रों ने किया वृक्षरोपण

श्रीगंगानगर के घड़साना में ए-वन एज्युकेशन संस्था एवं वन विभाग घड़साना द्वारा पर्यावरण दिवस पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enjoy khabar 24 Express? Please spread the word :)