Breaking News
BigRoz Big Roz
Home / Breaking News / स्त्री शक्ति का महत्व और शनिदेव भगवान की उपासना के चमत्कारिक फायदे, शनि भगवान की उपासना कैसे भर देगी जीवन में खुशियां, बता रहे हैं श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज

स्त्री शक्ति का महत्व और शनिदेव भगवान की उपासना के चमत्कारिक फायदे, शनि भगवान की उपासना कैसे भर देगी जीवन में खुशियां, बता रहे हैं श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज

 

 

 

स्त्री शक्ति का महत्व और शनि भगवान की उपासना अगर आप जान जाएंगे तो आपका जीवन हो जाएगा सफल, शनि भगवान की उपासना आपकी झोली भर सकती है, जीवन की सारी कठिनाइयों को दूर कर सकती है।

 

 

श्री सत्यसाहिब स्वामी श्री सत्येन्द्र जी महाराज आज एक महत्त्वपूर्ण बात आपको बता रहे हैं जो जीवन के सारे दुखों को समाप्त कर सकती है। स्वामी जी स्त्री शक्ति का तो महत्त्व बता ही रहे हैं साथ ही वो शनि भगवान की उपासना के भी फायदे बात रहे हैं जिससे कि आप अपने जीवन की सारी कठिनाइयों को आसानी से दूर कर सकते हैं।

 

“स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज इस अद्भुत और अकल्पनीय ज्ञान के लिए किसी से कोई धन नहीं लेते हैं वे सिर्फ अज्ञानता को दूर कर ज्ञान को बांटने का काम करते हैं।
श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज, श्री सत्यसिद्ध शानिपीठ और सत्यस्मि मिशन के संस्थापक हैं। स्वामी जी गरीब बच्चों के लिए स्कूल खोल रहे हैं तो दूसरी ओर सत्यस्मि मिशन के माध्यम से महिलाओं के उत्थान का भी कार्य कर रहे हैं। संक्षिप्त में बताते हुए अगर कोई इन सबको आगे बढ़ाने में, पूण्य कार्य करने में सहयोग करना चाहता है तो आप भी स्वामी जी के आशीर्वाद से पुण्य के भागीदार बन सकते हैं। लेख के अंत में सभी जानकारियां हैं आप पढ़ें और दूसरों को भी पूण्य कमाने के लिए प्रोत्साहित करें”।

 

स्त्री शक्ति की महत्ता और शनिदेव उपासना के चमत्कारिक उपाय-जाने स्वामी सत्येंद्र सत्यसाहिब जी से :-

यो तो व्यक्ति का भाग्य उसकी जन्मकुंडलियों में शनि की उच्च,मध्य या निम्न स्थिति पर निर्भर करता है, तब भी उसका शास्त्रगत चमत्कारिक और सफल उपाय है-उनकी पत्नी की पूजा करना और शनिदेव के साथ साथ एक दीपक पत्नी के नाम का भी शनि मन्दिर में अवश्य जलावे और उस दिन शनि व् पत्नी के नाम के दो काले गुलाब और गज्जक रेवड़ी मूंगफली अवश्य चढ़ाये और बांटे।मुख्य भोज प्रसाद में चना हलुवे का प्रसाद सबसे उत्तम रहता है।पर दो काले गुलाब अवश्य चढ़ाये।

पत्नी की पूजा से शनिदेव होंगे अवश्य प्रसन्न :-

शनिदेव के शनिवार के दिन शनि को खुश करना सबसे आसान होता है। इन्हें खुश करने का सबसे सरल उपाय है-शनिदेव की पत्नी की पूजा व् मंत्र जप करना यो शनि की कृपा दृष्टि पाने के लिए शनि की पत्नी की पूजा कीजिए। शनि देव अपनी पत्नी की पूजा से बहुत प्रसन्न होते हैं और सभी कष्टों से मुक्ति प्रदान करते हैं।

ऐसे करें शनि पत्नी की पूजा? :-

शनि देव को उनकी पत्नी ने श्राप दिया था कि शनि जिसे देखेंगे उसके जीवन की सारी खुशियां चली जाएगी। लेकिन शिव की कृपा से पत्नी द्वारा दिया गया शाप शनि देव के लिए वरदान बन गया।भगवान शनि के अधिदेवता प्रजापिता ब्रह्मा और प्रत्यधिदेवता यम हैं। इनका वर्ण कृष्ण, वाहन गिद्ध तथा रथ लोहे का बना हुआ है।

शनि की दृष्टि क्रूरता पत्नी के शाप का नतीजा है शनि भगवान सूर्य तथा छाया संवर्णा के पुत्र हैं। शनि की दृष्टि में जो क्रूरता है, वह इनकी पत्नी के शाप के कारण है।

ब्रह्म पुराण के अनुसार बचपन से ही शनि देवता भगवान शिव जी के परम भक्त थे। वह शिव जी के अनुराग में निमग्न रहा करते थे।वयस्क होने पर इनके पिता ने चित्ररथ की कन्या से इनका विवाह कर दिया। वेसे शनिदेव की आठ पत्नियां है जो इस प्रकार से है- ध्वजीनि, धामिनी, कंकाली, कलह प्रिया, कंटकी, कलही, तरंगी, महिषि, अजा देवी हैं।जिनमे कंकाली देवी ही प्रमुख है जो सती-साध्वी और परम तेजस्विनी थी। एक रात वह ऋतु-स्नान करके पुत्र प्राप्ति की इच्छा से इनके पास पहुंची पर ये शिव जी के ध्यान में निमग्न थे। इन्हें बह्य संसार की सुधि ही नहीं थी। पत्नी प्रतीक्षा करके थक गई। उनका ऋतुकाल निष्फल हो गया। इसलिए उसने क्रुद्ध होकर शनिदेव को शाप दे दिया कि आज से जिसे तुम देख लोगे, वह नष्ट हो जाएगा।
इसीलिए सिर नीचा रखते है शनिदेव
ध्यान टूटने पर शनिदेव ने अपनी पत्नी को मनाया। पत्नी को भी अपनी भूल पर पश्चाताप हुआ किंतु शाप के प्रतिकार की शक्ति उसमें न थी। तभी से शनि देवता अपना सिर नीचा करके रहने लगे क्योंकि वे नहीं चाहते थे कि इनके द्वारा किसी का अनिष्ट हो।
इसलिए शनि अपनी पत्नी के नाम का जप करने वाले को कभी कष्ट नहीं देते हैं। शनिवार के दिन प्रातः शनि की पूजा करके शनि पत्नी मंत्र का जप करें।

[शनि पत्नी मंत्र]

*ध्वजिनी धामिनी चैव कंकाली कलहप्रिया। कंटकी कलही चाऽथ तुरंगी महिषी अजा।।
शनेर्नामानि पत्नीनामेतानि संजपन‍् पुमान्। दुःखानि नाशयेन्नित्यं सौभाग्यमेधते सुखम।।

शनिदेव अष्ट पत्नी महाशावर मंत्र-

ध्वजीनि धामनी कंकाली माता
मुझ भक्त पर कृपा शनि की दाता।
कलही प्रिया कंटकी कलही तरंगी
रोग दोष ऋण मुक्ति अभंगी।
महिषी अजा कृपा माँ करना
मनवांछित वर शनि संग भरना।।

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार अन्य दिनों में भी जो व्यक्ति नियमित इस मंत्र का जप करता रहता है उसे शनि की दशा में कष्ट का सामना नहीं करना पड़ता है।
1-सूर्यदेव की पत्नी है-संध्या, राज्ञी, प्रभा, छाया।
2-चन्द्रदेव की पत्नी है- व वैसे तो ज्योतिष में चन्द्र स्त्री कारक ग्रह है।पर उन्हें देवता भी माना गया है,ये पुरुष प्रधानता के युग की देन है।और चन्द्र पृथ्वी पुत्र है,पर कथाओं में इनकी उत्पत्ति भिन्न है।और वेसे तो इनकी पत्नी सत्ताईस है, पर उनमे मुख्य रोहणी है। जिनसे इन्हें बुध ग्रह के रूप में पुत्र प्राप्त हुआ।
3-मंगलदेव की पत्नी है-शक्ति देवी।
4-बुधदेव की पत्नी है-इला देवी।
5-ब्रह्स्पतिदेव की पत्नी है-तारा देवी।
6-शुक्र देव की पत्नी है-उर्जस्वती देवी।
7-शनिदेव की पत्नी है-चित्ररथ की पुत्री कंकाली देवी।
8-राहु देव की पत्नी है-विप्रचित्ति देवी।
9-केतू देव की पत्नी है-सिंहिका देवी।
यो जो भी भक्त इन नव ग्रहों की पूजा के साथ इनकी पत्नियों के नाम का स्मरण करता है इसे सभी गृहस्थ सुखों की प्राप्ति होती है।ये है स्त्री शक्ति की महिमा जिसे पुरुषवाद ने उपासना से हटाकर महिमा मंडित किया है-

जो करे स्त्री शक्ति का प्रतिकार।
उसका सुखी नही संसार।।

 

इस लेख को अधिक से अधिक अपने मित्रों, रिश्तेदारों और शुभचिंतकों को भेजें, पूण्य के भागीदार बनें।”

अगर आप अपने जीवन में कोई कमी महसूस कर रहे हैं? घर में सुख-शांति नहीं मिल रही है? वैवाहिक जीवन में उथल-पुथल मची हुई है? पढ़ाई में ध्यान नहीं लग रहा है? कोई आपके ऊपर तंत्र मंत्र कर रहा है? आपका परिवार खुश नहीं है? धन व्यर्थ के कार्यों में खर्च हो रहा है? घर में बीमारी का वास हो रहा है? पूजा पाठ में मन नहीं लग रहा है?
अगर आप इस तरह की कोई भी समस्या अपने जीवन में महसूस कर रहे हैं तो एक बार श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज के पास जाएं और आपकी समस्या क्षण भर में खत्म हो जाएगी।
माता पूर्णिमाँ देवी की चमत्कारी प्रतिमा या बीज मंत्र मंगाने के लिए, श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज से जुड़ने के लिए या किसी प्रकार की सलाह के लिए संपर्क करें +918923316611

ज्ञान लाभ के लिए श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज के यूटीयूब

https://www.youtube.com/channel/UCOKliI3Eh_7RF1LPpzg7ghA से तुरंत जुड़े

 

 

*******

 

श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येंद्र जी महाराज

जय सत्य ॐ सिद्धायै नमः

Please follow and like us:
189076

Check Also

कर्नाटक में भाजपा का दावा पड़ा उल्टा, कांग्रेस के विधायक वापस पार्टी में तो भाजपा के 7 विधायक कांग्रेस के संपर्क में

“कर्नाटक में कांग्रेस के लिए अच्छी तो भाजपा के लिए बुरी ख़बर, कांग्रेस के बागी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enjoy khabar 24 Express? Please spread the word :)