Breaking News
BigRoz Big Roz
Home / Breaking News / राजस्थान में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़… ये लोग कुछ अलग ही तरीके से चला रहे थे सेक्स रैकेट : देखें यह वीडियो

राजस्थान में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़… ये लोग कुछ अलग ही तरीके से चला रहे थे सेक्स रैकेट : देखें यह वीडियो

आसपुर पुलिस को एक बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस को सूचना मिल रही थी कि डूंगरपुर जिले में बड़े व्यापक रूप से जिस्मफरोशी का धंधा चल रहा है और साथ ही ग्राहकों से लूट की खबर भी आ रही थी। लेकिन ग्राहक बदनामी के डर से शिकायत नहीं करते थे जिस वजह से दलालों का धंधा फल फूल रहा था।

मुखबिर की सूचना पर थानाध्यक्ष रिज़वान खान ने अपने एक कॉन्स्टेबल को ग्राहक बनाकर भेजा। इसके बाद पुलिस ने एक आरोपी योगेश पाटीदार को गिरफ्तार कर लिया।
थानाध्यक्ष रिज़वान खान ने बताया कि यह गिरोह काफी बड़ा है और इनमें कई और लोगों के लिप्त होने की संभावना है।

खबर विस्तार से :
योगेश पाटीदार जो लोगों के साथ धोखाधड़ी करता है उन्हें चमड़ी का लालच देता है। सुंदर सुंदर लड़कियों के साथ राते गुलजार करने का विश्वास दिलाता है। और उसके इस झांसे में आ जाते हैं लोग।

यह एक गैंग है जो राजस्थान में ही नहीं बल्कि देशभर में चल रहा है। इस गैंग के सदस्य सेक्स रैकेट चलते हैं। ये लोग ग्राहकों को फंसाते हैं उन्हें सुंदर-सुंदर लड़कियां दिलाने का वादा करते हैं और पेटीएम के जरिये या ऑनलाइन एप्लिकेशन के जरिये पैसे डलवा लेते हैं और पैसे आने के बाद इनका मोबाइल बन्द हो जाता है।
लोग बदनामी के डर से उनकी शिकायत नहीं करते हैं, इस तरह इन्होंने न जाने कितने लोगों को अपना शिकार बनाया है।

राजस्थान के डूंगरपुर जिले के आसपुर थानाधिकारी रिजवान खान को मुखबिर से सूचना मिली कि इस तरह के धंधे को अंजाम दिया जा रहा है। थाना अधिकारी रिज़वान खान ने कांस्टेबल राजेंद्र सिंह को थाने से सिविल ड्रेस में प्रताप चौराया आसपुर में तैनात किया, इसके बाद रिज़वान खान ने कांस्टेबल राजेंद्र सिंह के मोबाइल से योगेश को फोन कर वार्तालाप करवाई।
योगेश ने कांस्टेबल राजेंद्र सिंह को पूंजपुर स्थित रंगीला होटल के पास ₹2000 लेकर बुलाया जिससे मुखबिर द्वारा दी गई सूचना और पुख्ता हो गई।
कांस्टेबल राजेंद्र सिंह को नकली ग्राहक बनाकर रंगीला होटल की तरफ जाने के लिए रवाना किया गया, थाना अधिकारी रिजवान खान समय से पहले शाम को 7:00 बजे अपनी टीम के साथ पूंजपुर स्थित रंगीला होटल के पास एकांत में जाकर खड़े हो गए

अभियुक्त योगेश की बुलाई गई जगह पर कांस्टेबल राजेंद्र सिंह सादे कपड़ों में इंतजार करने लगे तभी अभियुक्त योगेश वहां पर अपनी मोटरसाइकिल लेकर पहुंचा कांस्टेबल राजेंद्र सिंह के साथ बातचीत की और फिर अपनी मोटरसाइकिल लेकर पूंजपुर की तरफ रवाना हो गया, तभी राजेंद्र सिंह ने थाना अधिकारी रिजवान खान को इशारा किया थानाधिकारी रिजवान अपनी टीम के साथ अभियुक्त योगेश को दबोच लिया।
थाना अधिकारी रिजवान खान ने जब उसका नाम पूछा तो उसने अपना नाम योगेश पाटीदार पिता नाथू पाटीदार निवासी बनकोडा दौवड़ा पुलिस थाना जिला डूंगरपुर बताया।
कांस्टेबल राजेंद्र सिंह में नकली ग्राहक बनकर लड़की उपलब्ध कराने के एवज में ₹2000 दिए थे वह वापस अपने कब्जे में ले लिए आरोपी से दो मोबाइल भी बरामद किए गए हैं।
अभियुक्त योगेश को मौके पर ही गिरफ्तार कर लिया।

थाना अधिकारी मोहम्मद रिजवान खान ने थाने में जब पूंछताछ की तो आरोपी योगेश पाटीदार ने बताया कि वह अपने साथियों के साथ मिलकर मोबाइल फोन से प्ले स्टोर से लोकन्टू एप्लीकेशन डाउनलोड कर एप्लीकेशन में अपने मोबाइल नंबर और लड़कियों उपलब्ध कराने बाबत विवरण लेकर एप्लीकेशन को साइट पर डाल देता था जिस पर जो कोई व्यक्ति उक्त एप्लीकेशन को यूज करता उसको उक्त एप्लीकेशन से मोबाइल नंबर और लड़कियां उपलब्ध कराने की जानकारी होती। जिस पर उक्त लोगों द्वारा मुजरिम योगेश पाटीदार का मोबाइल नंबर पर फोन करते, वह उक्त लोगों को लड़कियां उपलब्ध कराने विश्वास देकर उनसे धोखे में रखकर उनसे रुपये की मांग करता और ऑनलाइन पेमेंट की बात करता और अकाउंट के जरिए ऑनलाइन पेमेंट प्राप्त करता
लोगों को विश्वास में लेकर उनकी पूर्ण जानकारी हासिल कर लेता था। और उनके नजदीकी लड़की उपलब्ध कराने की बात करता था जब मुजरिम को ऑनलाइन पेमेंट मिल जाती तो उन लोगों के नंबर वह ब्लैक लिस्ट में डाल देता था।

बता दें कि यह ऑनलाइन एप्लीकेशन के जरिए लोगों को झांसे में लेकर ऑनलाइन पेमेंट खाते में मंगवाता था। पुलिस ने मामले की तह जाकर आरोपी को पकडऩे में सफलता हासिल की। पुलिस को मुखबिर के जरिए सूचना मिली कि लोकिया बनकोड़ा निवासी योगेश पुत्र नाथु पाटीदार के मोबाइल नंबर पर कई लोगों के कॉल आते हैं। वह उन व्यक्तियों से फोन पर वार्ता कर अनैतिक कार्य के लिए लड़की उपलब्ध कराने का झांसा देकर रुपए ऐंठता और रुपए लेने के बाद फरार हो जाता ।

पीड़ित व्यक्ति डर व बदनामी के कारण शिकायत नहीं करते थे। थानाधिकारी रिजवान खान ने बताया कि सूचना विश्वसनीय होने पर कांस्टेबल राजेंद्र सिंह को सादे वस्त्रों में आसपुर प्रताप सर्किल पर भेजा। कांस्टेबल की आरोपी से वार्तालाप कराई। इस पर आरोपी ने दो हजार रुपए लेकर रंगीला होटल के पास पूंजपुर बुलाया। कांस्टेबल बोगस ग्राहक बनकर गए। पीछे पीछे थानाधिकारी भी सरकारी वाहन से पूंजपुर पहुंच गए। यहां पर आरोपी ने कांस्टेबल से वार्तालाप की। वह बाइक से वापस जाने लगा तो थानाधिकारी ने अपनी टीम के साथ आरोपी को दबोच लिया। लोकिया बनकोड़ा निवासी आरोपी योगेश पुत्र नाथु पाटीदार को गिरफ्तार कर लिया है। धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। टीम में सहायक उपनिरीक्षक देवेंद्र सिंह, प्रवीण सिंह, कांस्टेबल राजेंद्र सिंह, गणपतदान, रोहित सिंह, विजयपाल सिंह, गोविंद सिंह थे।

आरोपी योगेश पाटीदार अपने साथियों से मिलकर मोबाइल फोन में प्ले स्टोर से लोकेन्टू एप्लीकेशन डाउनलोड कर उसमें मोबाइल नंबर व लडकियां उपलब्ध कराने का विवरण लिखकर साइट पर डाल देता था। कोई भी व्यक्ति के एप्लीकेशन के प्रयोग करते ही वह आरोपी के संपर्क में आ जाते। आरोपी को कॉल करने पर ऑनलाइन पेमेंट जमा कर लड़की उपलब्ध कराने की बात कही जाती। पैसे लेने के बाद उनके मोबाइल नंबर ब्लेक लिस्ट में डाल देता था। आरोपी के पास प्रतिदिन 8 से 10 कॉल आते थे। इसमें से 2 से 4 लोग झांसे में आकर पेमेंट कर देते थे। आरोपी एकाउंट के जरिए ऑनलाइन राशि प्राप्त करता था। इसके बाद सम्पर्क करना बंद कर देता था।

……………..

रिपोर्ट जगदीश जी तेली, ब्यूरो चीफ राजस्थान

Please follow and like us:
189076

Check Also

मध्यप्रदेश के छतरपुर में बिजली कटौती से नाराज लोगों ने लगाया चक्का जाम

बिजली कटौती से मध्यप्रदेश के कई इलाके प्रभावित हो रहे हैं। जिसकी वजह से लोगों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enjoy khabar 24 Express? Please spread the word :)