Breaking News
BigRoz Big Roz
Home / अध्यात्म

अध्यात्म

वैजयंती की माला पहनने के अनेकों फायदे, यह है एक अद्भुत और चमत्कारी माला जिसके पहनने से हो जाती हैं सारी बाधाएं दूर : श्री सत्यसहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज

      “वैजयंती की माला का प्राचीन धर्मग्रंथों में भी काफी बखान है, इसके पहनने के अनेकों फायदे हैं, जिन्हें स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज आज बता रहे हैं।”   वैजयंती माला का प्राचीन धमर्ग्रंथों में काफी बखान किया गया है। धर्मग्रंथों में उल्लेख है कि धरा ने वैजयंती की …

Read More »

कैसा होगा आपका भविष्य? कैसे आएंगी खुशियां, शनिवार के दिन विशेष : श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज द्वारा आज का भविष्य दर्पण

        “आज शनिवार यानि शानिदेव भगवान का दिन। आजके दिन यदि कोई दिल से, मन से श्री शानिदेव की पूजापाठ करता है तो उसके सारे दुःख समाप्त हो जाते हैं।”   श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज आज शनिवार के दिन भविष्य दर्पण बता रहे हैं। साथ …

Read More »

आज 20 जून को है माँ धूमावती की जयंती, कौन हैं माँ धूमावती? कैसे होती है इनकी पूजा? विश्व विधवा दिवस का क्या है इनसे संबंध? बता रहे हैं स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज

        मां धूमावती जयंती के विशेष:-     “20 जून यानि माँ धूमावती की जयंती। आपमें से बहुत से लोग माँ धूमावती के बारे में शायद जानते भी ना हों, आज स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज इस दिवस के बारे में सब कुछ बता रहे हैं और साथ …

Read More »

हिन्दू धर्म में कैलाश को जान गए तो मानों हिंदुत्व को जान गए, भगवान भोलेनाथ की अनौखी महिमा है कैलाश पर्वत : श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज

      ”हिमालयात् समारभ्य यावत् इन्दु सरोवरम्। तं देवनिर्मितं देशं हिन्दुस्थान प्रचक्षते॥”   अर्थात : हिमालय से प्रारंभ होकर इन्दु सरोवर (हिन्द महासागर) तक यह देव निर्मित देश हिन्दुस्थान कहलाता है।     “कैलाश पर्वत यानि भगवान श्री भोलेनाथ का पवित्र धाम, एक ऐसा धाम जिसके दर्शन मात्र से …

Read More »

आने वाली है पूर्णिमासी, होंगे सारे कार्य सिद्ध, सत्यास्मि धर्म ग्रंथ का पाठ और माँ पूर्णिमा देवी की पूजा, खुशियों से भर देंगीं आपके घर जाने कैसे ? बता रहे हैं स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज

      पूर्णिमासी यानि माता पूर्णिमा देवी का दिन। पूर्णिमासी के दिन सत्यास्मि धर्म ग्रंथ का पाठ और माता पूर्णिमा की पूजा लाभ ही नहीं देती बल्कि सारी मनोकामनाएं पूरी कर देती हैं।     श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज के मुताबिक पूर्णिमासी का दिन बेहद खास होता …

Read More »

स्त्रियों का कुण्डलिनी जागरण ( भाग-4) विश्व धर्म इतिहास में पहली बार सत्यास्मि धर्म ग्रंथ से प्रकट किया गया-स्त्री की कण्डलिनी बीज मंत्र और उनके चित्र और जागरण : स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज का महाज्ञान

    स्त्रियों के कुण्डलिनी जागरण (भाग-4) में श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज परम ज्ञान दे रहे हैं। वो भी एक ऐसा ज्ञान जो किसी किताब या किसी ज्ञानी, महान विद्धवान के पास नहीं मिलता।   स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज आज स्त्रियों के कुण्डलिनी जागरण की पूर्ण व्याख्या कर …

Read More »

एक ऐसा सत्यसिद्ध शनिपीठ जहाँ पूजा करने से हो जाती हैं सारी मुरादें पूरी, इस सत्यसिद्ध पीठ के संस्थापक भी कम चमत्कारी नहीं हैं

                “आज शनिवार है, यानि भगवान श्री शनिदेव जी का दिन। इस दिन श्री शनिदेव की पूजा की जाती है। कहते हैं कि इस दिन जो तेल का दीपक जलाकर तथा श्री शानिदेव भगवान की मूर्ति पर सरसों के तेल से विषर्जन करता …

Read More »

कौवा के द्वारा भगवान शनिदेव को प्रसन्न करने के अचूक उपाय, इससे मिल सकती है पत्रिदोष से भी मुक्ति, अपने दुखों को सुख में बदलने के उपाय : श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज

        “भगवान शनि के नौ प्रिय वाहन हैं और इन सभी का अलग-अलग महत्त्व है। भगवान शनि न्याय के देवता माने जाते हैं और उन्हें कर्म फलदाता भी कहा जाता है। शनिदेव को मानने वालों के मुताबिक भगवान शनि अपने भक्तों की हर मनोकामना पूर्ण करते हैं।” …

Read More »

स्त्रियों का कुण्डलिनी जागरण (भाग 3), सत्यास्मि धर्मग्रन्थ में सम्पूर्ण जीवन की व्याख्या : श्री सत्यसहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज

        “स्त्रियों का कुण्डलिनी जागरण (भाग-3), सत्यास्मि धर्मग्रन्थ में इसकी सम्पूर्ण चर्चा है। स्त्रियों के कुण्डलिनी जागरण की इस तरह की व्याख्या न तो किसी और धर्म ग्रंथ में देखने को मिलेगी और न ही पढ़ने को मिलेगी।”   किसी भी विश्व धर्म इतिहास में स्त्रियों के …

Read More »

तुलसी लगाने और उसकी पूजा करने के चमत्कारिक उपाय, ऐसे चमत्कार जो आपका घर भर देंगे : श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज

      “तुलसी की पूजा का शास्त्रों में भी वर्णन है। तुलसी पूजा का हिन्दू धर्म में बड़ा महत्त्व होता है। तुलसी लगाने से घर तो महकता ही है साथ ही घर में शांति भी आती है।”     आपको बता दें कि तुलसी का पौधा घर में शांति …

Read More »

स्त्रियों का कुण्डलिनी जागरण (भाग 2) क्या है “रेहि क्रिया योग”? इसको जानें और ईश्वरत्त्व को प्राप्त करें : श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज

        “श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज ने स्त्रियों के कुण्डलिनी जागरण के बारे में बताया था यह उसी का दूसरा भाग है। कुण्डलिनी जागरण के दूसरे भाग में स्वामी जी रेहि। क्रिया के बारे में बता रहे हैं।”       (कुण्डलिनी जागरण का पहला भाग …

Read More »

कछुए की अंगूठी पहनने के कारण और फायदे? किस राशि वाले करें इसे धारण? क्या होता है इसका प्रभाव? जाने इसके सम्पूर्ण रहस्य, बता रहे हैं स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज

        “कछुए की अंगूठी के पहनने का कारण और उसका लोगों को क्या लाभ मिलता है? और किस राशियों वालों को पहननी चाहिए किसे नहीं? तो आइए जानते हैं इस रहस्य को, श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज कछुए की अंगूठी के बारे में दे रहे हैं …

Read More »

स्त्रियों का कुण्डलिनी जागरण और बीज मंत्र (भाग 1), श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज द्वारा स्त्रियों के लिए “सत्यास्मि धर्म ग्रंथ” एक अपूर्व भेंट

“श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज आज एक ऐसे विषय पर बात करने जा रहे हैं जहां पुरुष प्रधान देश में कोई स्त्रियों के लिए बात नहीं करना चाहता है।” श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज स्त्रियों के कुण्डलिनी जागरण की बात कर रहे हैं। सत्यास्मि ग्रन्थ स्वामी जी ने …

Read More »

एक ऐसा चमत्कारिक शनि मंदिर, जहाँ दर्शन करने मात्र से ही दूर हो जाती हैं सारी परेशानियां, झोली खुशियों से भर जाती है, जानें और विशेषताएं

      “कहते हैं कि जब शनिदेव प्रसन्न होते हैं तो रंक भी राजा बन जाता है, सारे काम सिद्ध होने शुरू हो जाते हैं, सफलताओं के मार्ग अपने आप खुलने लगते हैं।”   भगवान शनिदेव के बारे में सभी जानते हैं, कुछ लोग इनके न्यायदाता और कर्मफल दाता …

Read More »

चमत्कारिक रुद्राक्ष, जो रंक को भी राजा बना दें, रुद्राक्ष एक रूप अनेक, इन सबकी अलग-अलग खूबियों के बारे में जानें और पहचानें : श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी माहारज

          भगवान भोलेनाथ के सबसे करीब, महादेव का अंश, रुद्र+अक्ष, महादेव का रुद्र रूप और अक्ष मतलब अश्रु। यानि भगवान शिव के रौद्र रूप के आँसू से बना रूद्राक्ष।   कहते हैं कि रुद्राक्ष की अनेकों विशेषताएँ हैं, अगर असली रुद्राक्ष राशि के मुताबिक कर्मकांडों के …

Read More »

Enjoy khabar 24 Express? Please spread the word :)