Breaking News
BigRoz Big Roz
Home / Breaking News / बेलगाम पेट्रोल डीजल, रुपये की गिरती कीमत, बेरोजगारी और बढ़ती महंगाई की मार पर विपक्ष का वार, अब क्या करेगी सरकार, “आज तो भारत बंद है” : खुशबू

बेलगाम पेट्रोल डीजल, रुपये की गिरती कीमत, बेरोजगारी और बढ़ती महंगाई की मार पर विपक्ष का वार, अब क्या करेगी सरकार, “आज तो भारत बंद है” : खुशबू

 

 

 

“बहुत हुई बढ़ती महंगाई की मार

अबकी बार ……………. सरकार।”

 

“बढ़ते पेट्रोल डीजल की मार

आम आदमी परेशान…। अबकी बार…….. सरकार”

 

साल 2013-14 तक न जाने कितने असंख्य पोस्टर, होर्डिंग्स, टीवी एड इत्यादि अनेकों विज्ञापन आपने देखे – सुने होंगे।

वही मौसम, वही समय… लेकिन 4 साल बाद और हाल भी वहीं। आम जनता पर उससे कहीं अधिक मार पड़ रही है लेकिन सरकार… जैसे चुप्पी दबाएं बैठी हैं।

2013-14 में किसी ने कहा था कि “दिल्ली की सरकार अंधी बहरी हो गयी है, कान में रुई दबाए बैठी है, आम आदमी की आवाज उस तक नहीं पहुंच रही है। तो भाइयों बहनों इस बार किसकी सरकार…… चईये कि नई चईये। बला बला न जाने कितने भाषण पेले गए होंगे। प्रचार पर करोड़ों रुपए खर्चा किया होगा लेकिन 4 साल बाद नतीजा क्या निकला?

पेट्रोल और डीजल की कीमते बेलगाम हो चली हैं। रोजाना कीमतों में उछाल बदस्तूर जारी है। रविवार को दिल्ली में पेट्रोल का दाम बढ़कर 80.50 रुपये प्रति लीटर हो गया है, तो वहीं डीजल की कीमत 72.61 रुपये प्रति लीटर पहुंच गई। इससे पहले शनिवार को यहां पेट्रोल 80.38 पैसे जबकि डीजल 72.51 रुपये प्रति लीटर था। वहीं मुंबई में पेट्रोल 87.89 रुपये लीटर हो गया है और एक लीटर डीजल 77.09 रुपये में मिल रहा है। एक दिन पहले यहां पेट्रोल 87.77 और डीजल 76.98 रुपये प्रति लीटर था।

पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों और रुपये की घटती कीमत की वजह से केंद्र सरकार सवालों के घेरे में है और यही वजह से कि आम आदमी आज इन बढ़ती कीमतों से त्राहि त्राहि कर रहा है।
लोगों का आरोप है कि न तो सरकारी नौकरियां हैं और ना ही गैर सरकारी रोजगार लेकिन सरकार है कि हर तरफ से आम जनता को मार रही है। एक तरफ बढ़ती महंगाई तो दूसरी तरफ बेरोजगारी।

 

पेट्रोल और डीजल की कीमतें लगातार बढ़ने और रुपये की कीमत लगातार गिरने के विरोध में कांग्रेस ने सोमवार 10 सितंबर यानि आज भारत बंद का आवाह्न किया है। भारत बंद को 20 राजनीतिक पार्टियों का समर्थन मिला है। अब देखना यह भी दिलचस्प रहेगा कि महागठबंधन इस बंद के दौरान कितनी सफलता हासिल करता है। मतलब लोगों का समर्थन मिलता भी कि नहीं यह सब सुबह 11 बजे तक साफ हो जाएगा।
कांग्रेस पार्टी के अनुसार भारत बंद को बड़ी छोटी सभी पार्टियों का समर्थन हासिल है उनमें प्रमुख हैं समाजवादी पार्टी (सपा), बहुजन समाज पार्टी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, द्रमुक, राष्ट्रीय जनता दल,, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी, जनतादल (एस), राष्ट्रीय लोक दल, झारखंड मुक्ति मोर्चा, और कई अन्य दलों का भी समर्थन है। कांग्रेस नेता अजय माकन ने कहा कि पार्टी चाहती है कि डीजल और पेट्रोल को जीएसटी के अंतर्गत लाया जाए, जिससे इनकी कीमतों में 15 से 18 रुपये की कमी आएगी। उन्होंने कहा कि केंद्र ने पिछले चार साल में ईंधन पर उत्पाद शुल्क लगाकर 11 लाख करोड़ रुपये की कमाई की है और सरकारी खजाना भरने के लिए यह राशि आम आदमी से ली है, जबकि कुछ बड़े व्यापारियों और उद्योगिक घरानों को फायदा सरकार ने पहुंचाया है।
बता दें कि अगस्त के मध्य से अब तक पेट्रोल 3.42 रुपये प्रति लीटर और डीजल 3.84 रुपये प्रति लीटर महंगा हो चुका है।

कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत ने कहा है की हम सब ने मिलकर इस सरकार को जगाने के लिये और देश भर के लोगों के आक्रोश की भावना का सम्मान करते हुए 10सितम्बर को भारत बंद का आह्वान किया है।

हम सब ने मिलकर इस सरकार को जगाने के लिये और देश भर के लोगों के आक्रोश की भावना का सम्मान करते हुए 10 सितम्बर को भारत बंद का आह्वान किया है।
देशवासियों से अपील है वे पूरे देशभर से इस प्रोटेस्ट में हमें ज्वाइन करें।

अशोक गहलोत ने कहा कि मोदी सरकार से कोई वर्ग खुश नहीं है, सरकार राहुल गांधी के सवालों का जवाब नहीं दे पा रही है।

उन्होंने कहा, ”मंहगाई, पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों ने कमर तोड़ दी है, लोगों में जबरदस्त आक्रोश है. हम साथ आने के लिए विपक्षी पार्टियों से बात कर रहे हैं।
वहीं कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि पेट्रोल, डीजल के अलावा LPG गैस की कीमत दोगुनी हो चुकी है। दूध से लेकर प्लेटफॉर्म टिकट तक के दाम कई गुना बढ़ चुके हैं, कांग्रेस अध्यक्ष मांग कर रहे हैं कि पेट्रोल-डीजल को GST में लाया जाए, इससे 10-15 रुपए तक कमी आएगी। लेकिन सरकार मानने को तैयार नहीं है।

 

******

रिपोर्ट : खुशबू रानी
खबर 24 एक्सप्रेस, बेंगलोर (कर्नाटक)

 

 

Please follow and like us:
15578

Check Also

भ्रष्टाचार मुक्ति अभियान के जिला, तहसील व विकास खंड समन्वयकों की बैठक सम्पन्न।

    भ्रष्टाचार मुक्ति अभियान के जिला, तहसील व विकास खंड समन्वयकों की एक बैठक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enjoy khabar 24 Express? Please spread the word :)