Breaking News
BigRoz Big Roz
Home / Breaking News / राशियों पर क्या है शुक्र का प्रभाव, किसका क्या बनेगा, क्या बिगड़ेगा? जानें श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज से

राशियों पर क्या है शुक्र का प्रभाव, किसका क्या बनेगा, क्या बिगड़ेगा? जानें श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज से

 

 

“जुलाई से शुक्र घर बदल रहे हैं जिससे कि सभी राशियों पर शुक्र का कुछ न कुछ प्रभाव पड़ेगा। किसको मिलेगा सुख और किसके रास्ते में आएंगी कठिनाइयाँ? श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज सभी सुखों दुखों का लेखा जोखा बता रहे हैं।”

 

शुक्र का सिंह राशि में गोचर- 5 जुलाई 2018 से प्रारम्भ हुआ है।

ज्योतिष में शुक्र ग्रह को भौतिक सुखों का कारक स्वामी माना गया है। कुंडली में शुक्र के शुभ प्रभाव से प्रेम,विवाह, वाहन, घर, महंगे वस्त्र, आभूषण जैसी सभी सांसारिक सुखों की प्राप्ति होती है। शुक्र को कला, सौंदर्य और वैवाहिक सुख का कारक ग्रह भी माना गया है, और इसकी देवी पूर्णिमां है,जिनके रूप लक्ष्मी या वेभ्व लक्ष्मी और संतोषीमाता है, शुक्र ग्रह से कलात्मक व्यवसाय से जुड़े लोग, भौतिकवादी लोगों और फ़िल्मी और ग्लैमर की दुनिया से जुड़े व्यक्तियों पर इसका गहरा प्रभाव होता है। वहीं शुक्र की कृपा से दाम्पत्य जीवन में प्रेम और मधुरता आती है। शुक्र ग्रह को वृषभ और तुला राशि का स्वामित्व प्राप्त है। यह मीन राशि में उच्च भाव में होता है और कन्या राशि में नीच भाव में रहता है।यदि ये नीच का बनता है,तब प्रेम में धोखें,अचानक बुखार बढ़ने से अस्पताल में भर्ती होना,पसंद के पद या स्थान से नीचे के स्तर का पद या स्थान या परिवतर्न होता है।विपरीतलिंगी धोखा देते है।
यो जाने आपकी राशि में क्या है।

वर्तमान में शुक्र ग्रह 5 जुलाई 2018, गुरुवार को 02:38 बजे सिंह राशि में गोचर करेगा और 1 अगस्त 2018, बुधवार 12:41 बजे तक इसी राशि में स्थित रहेगा।आओ जानते हैं-सभी 12 राशियों पर शुक्र के गोचर का होने वाला प्रभाव के विषय में:-

शुक्र का मेष पर प्रभाव:-

शुक्र आपकी राशि से पांचवे भाव में गोचर करेगा। ये गोचर आपके प्रेम संबंधों के लिए शुभ है। परिवारिक रिश्तों में प्यार के बढ़ने से निजी संबंध सुद्रढ़ होंगे। यो तो परस्पर बाप बेटी या माँ बेटे के छोटे-मोटे लड़ाई-झगड़े भी होते रहेंगे। छात्रों की शैक्षिक विषय में थोड़ी बहुत परेशानियां आ सकती हैं,फिर भी वो पढ़ाई में अपना मन लगा पाएंगे और सफलता हासिल करेंगे।यदि आप शादीशुदा हैं तो आपके बच्चों को उनके अपने क्षेत्र में सफलता मिलेगी। बच्चों की सेहत के प्रति सचेत रहें। प्रियजनों को पेट से संबंधी रोग होने की संभावना है, इसलिए उनकी सेहत का भी ख़्याल रखें। किसी नए रिश्ते का प्रारम्भ हो सकता है।आपकी आय में वृद्धि होगी।यदि आप प्रेम में हैं तो, प्रेमी विवाह के परिणय सूत्र में बंध सकते हैं।आपको परिवार का सहयोग मिलेगा।प्रयत्न करने पर मनवांछित पद या स्थान पर ट्रांसफर सम्भव है।

उपायः शुक्रवार के दिन पूर्णिमाँ की पूजा के बाद 9 कन्याओं या अधिक कन्याओं को मोमबत्तियां दान करें।किसी देवी के मन्दिर में सफेद मिठाई अधिक मात्रा में बांटें।

 

शुक्र का वृषभ पर प्रभाव:-

शुक्र आपकी राशि से चौथे भाव में प्रवेश करेगा। ये समय आपके व्यक्तिगत जीवन में खुशहाली लेकर आएगा। परिवार में प्रेम व सौहार्द बने रहने के कारण आप घर वालों के साथ समय बिताना पसंद करेंगे।अपने मकान के सौंदर्यीकरण की योजना बना सकते हैं। थोड़ी बहुत साज-सज्जा घर के इंटीरियर में बदलाव शुभ रहेगा। मां या घर की स्त्री पक्ष को इस सुख-सुविधाओं का लाभ मिलेगा और परिजन का स्वास्थ्य पहले से अच्छा होगा।अपनई नोकरी या कार्यस्थल पर अच्छा प्रदर्शन करेंगे।अनावश्यक विवादों से बचने की कोशिश करें।बुआ या ननिहाल पक्ष के लोग घर आ सकते हैं और घर पर किसी कार्यक्रम का आयोजन भी किया जा सकता है। आपके सहयोगी या परिजन यदि कार्यरत हैं तो उन्हें कोई अच्छी ख़बर प्राप्त हो सकती है। इस गोचर के दौरान आप कोई नई गाड़ी भी खरीद सकते हैं या फिर किसी ज़मीन का सौदा भी कर सकते हैं।पेट या गुप्तांग में कष्ट बन सकता है।किसी अचानक मुलाकात में आई स्त्री या पुरुष यानि विपरीतलिंगी से सावधान रहे।

उपायः-शुक्लपक्ष के शुक्रवार के दिन मध्यमा उंगली में हीरा या उपरत्न धारण करें।चिड़ियों को सप्त अनाज भिगों कर खाने को छत्त पर डाला करें।

मिथुन राशि पर शुक का प्रभाव:-

आपकी राशि से शुक्र तीसरे भाव में गोचर करेगा।आपका स्थान परिवर्तन या पद परिवर्तन आपके मनोरूप नहीं होने से बड़ी कठनाई का सामना करना पड़ेगा और उसे मनपसन्द स्थान में परिवर्तन के लिए कठिन परिश्रम और धन खर्च करना पड़ेगा।फिर भी मन अशांत रहेगा।आप किसी लाभ के लिए जोख़िम उठाना पसंद करेंगे। इस दौरान अपनी किसी भी पूर्व रुकी हॉबीज़ को सुधार कर निखारने की कोशिश करेंगे और अपना ज्यादातर समय उसी में व्यतीत करेंगे। मनोरंजन के लिए छोटी-मोटी यात्राएं संभव हैं। जीवन में किसी नए रिश्ते की आगमन हो सकता है और थोड़ी बहुत नोक-झोंक के बाद आप भी उस रिश्ते को पसंद करने लगेंगे। अपने पूर्व प्रियजनों का साथ पसंद करेंगे और अपना समय उन्हीं के साथ बिताएंगे।आपका कोई कलात्मक गुण उभर कर सामने आ सकता है, जो आपको नाम व प्रसिद्धी देगा। सामाजिक स्तर बढ़ेगा। जीवनसाथी के लिए कोई शुभ समाचार आ सकता है। बच्चे भी अपने बालपन का भरपूर आनन्द करेंगे।

उपायः- भगवान शिव पार्वती की पूजा करें और उन्हें सफेद चंदन व सफेद फूल और पंचाम्रत चढ़ाएं।

कर्क राशि पर शुक्र का प्रभाव:-

शुक्र आपकी राशि से दूसरे भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपको कई वित्तीय लाभ होंगे और आप अच्छी बड़ी रक़म जोड़ सकेंगे। ली गयी या लेने वाली प्रॉपर्टी से भी फायदा संभव है। आपकी संवाद शैली में ध्यान से सुधार आएगा और आप दूसरों को अपनी बातों से आकर्षित कर पाएंगे।यदि आपकी बोली की मिठास, कड़वाहट में बदल गई तो आपके लिए परेशानी खड़ी कर सकती है, इसलिए वाणी पर संयम रखें।रुचिकर खाने के लिए बड़े-बड़े रेस्टोरेंट में मित्र या परिजनों के कारण मौका मिलेगा।सगे लोगो या परिवार में कोई समारोह हो सकता है या फिर किसी नए मेहमान का आगमन भी अचानक संभव है।

उपायः-शुक्रवार को भैरव को तेल सिंदूर चढ़ाएं।कुत्ते को मीठा दे।

सिंह राशि पर शुक्र का प्रभाव:-

शुक्र आपकी राशि से ही गोचर करेगा।अचानक स्वस्थ खराब होगा और कोई रहस्यमयी न समझ आने वाला कष्ट और बुखार व् कमजोरी बनेगी।ये ठीक होने पर भी पुनः आ सकती है।पर इस समय आप अपने अच्छे कार्यों के लिए यश पाएंगे। बीते समय में किए गए संघर्षों का लाभ इस समय प्राप्त होगा। व्यक्तित्व में सकारात्मक बदलाव देखने को मिलेगा, जिससे आपके प्रति लोग आकर्षित होंगे।लोग और परिजन गंभीर मुद्दों पर आपकी सलाह ले सकते हैं। भाई-बहनों का सहयोग सामान्य प्राप्त हो सकता है। अपने लिए आप कुछ ऐसा करेंगे, जिससे आपको प्रसन्नता हासिल होगी। शादीशुदा ज़िंदगी में पहले की अपेक्षा सुधार आएगा, हालांकि थोड़े बहुत तनाव व झगड़े संभव हैं इसलिए कुछ ऐसा न कहें या न करें जिससे बात आगे बढ़े।पहल करें।

उपायः- शुक्रवार के दिन मंदिर में पूर्णिमां या लक्ष्मी देवी को दो लाल गुलाब अर्पित करें।

कन्या राशि पर शुक्र का प्रभाव:-

शुक्र आपकी राशि से बारहवें भाव में प्रवेश करेगा। भौतिक सुखों की ओर मन ज़्यादा लगेगा, इस कारण ख़र्च बढ़ सकते हैं।वासनात्मक रूचि बढ़ेगी और ऐसी क्रियाओं में आपको खुशी मिलेगी,परंतु इस पर अपना नियंत्रण ज़रूर रखें। करियर में नए अवसर के लिए आप विदेश की ओर भी अपना यात्रा कर सकते हैं। लंबी यात्रा निश्चित है, उनमें से कुछ आपके हित में हैं। पिकनिक या कहीं बाहर घूमने जाने का प्लान बन सकता है।अचानक जीवन साथी की सेहत बिगड़ सकती है।समान का ध्यान रखे।

उपायः- शुक्रवार के दिन पूर्णिमां देवी या दुर्गा माँ को दही व चीनी का भोग लगाएं।

तुला राशि पर शुक्र का प्रभाव:-

शुक्र आपकी राशि से ग्यारहवें भाव में प्रवेश करेगा। इस दौरान आपके जीवन में खुशहाली व समृद्धि आएगी। आप जो भी करेंगे उसमें सफलता मिलेगी। दिल की कोई मनोकामना पूरी हो सकती है। विपरीत लिंग के जातकों की मदद से आगे बढ़ने में मदद मिलेगी। आर्थिक लाभ की संभावना है। प्रेम संबंधों में स्नेह, प्यार और बढ़ेगा। सामाजिक समारोह में जाना पसंद करेंगे साथ ही दोस्तों व रिश्तेदारों के संग अच्छा समय गुज़ारेंगे। बच्चे भी इस गोचर काल का पूरा आनंद उठाएंगे हालांकि उनकी सेहत में थोड़ी बहुत गिरावट आ सकती है। नए रिश्ते का आगमन हो सकता है। शादीशुदा ज़िंदगी और मज़बूत होगी।

उपायः शुक्रवार को अनामिका ऊँगली में अच्छे स्तर का ओपल रत्न धारण करें।कुत्तों को खीर दे।

वृश्चिक राशि पर शुक्र का प्रभाव:-

शुक्र आपकी राशि से दसवें भाव में प्रवेश करेगा।व्यापार में लाभ होने के पूरे आसार हैं। किसी विदेशी कंपनी से व्यापार सम्बंध हो सकते है जो आपके करियर व बिजनेस के लिए बेहद प्रगतिशील व लाभदायक साबित होगी। कार्य से संबंधी छोटी या फिर लंबी यात्रा भी संभव है। कार्यक्षेत्र पर बिजनेस और लाइफ पार्टनर का सहयोग पूर्ण रूप से प्राप्त होगा। निजी संबंधों में प्रेम व सौहार्द बना रहेगा, बहस से बचें साथ ही कार्यालय में भी अनैतिक संबंधों से दूरी बनाएं रखें। वाहन सावधानी पूर्वक चलाएं। मां की तबियत पहले से अच्छी होगी।

उपायः सफेद गाय की पूजा करें व उन्हें गुड़ रोटी और चारा खिलाएं।

धनु राशि पर शुक्र का प्रभाव:

शुक्र आपकी राशि से नौवें भाव में गोचर करेगा। इस बीच आपको आपकी मेहनत का फल प्राप्त होगा। इस दौरान कुछ लंबी यात्राएं संभव हैं जिनमें से कुछ फायदेमंद साबित होंगी। पिता को उनके करियर या जीवन में प्रमोशन मिलने की संभावना है। भाई-बहनों को भी इस समय का लाभ मिलेगा। प्रेम संबंधों में रोमांस की उमंगे दौड़ेगी जिससे रिश्ते मज़बूत होंगे। बस बहस से बचें। घर में बड़े भाई-बहन व ऑफिस में बड़े अधिकारी का सहयोग प्राप्त हो सकता है। इस बीच आप कोई नया व्यवसाय भी शुरू कर सकते हैं।

उपायः- प्रत्येक शुक्रवार को शमी या पीपल या बड़ के वृक्ष को बिना स्पर्श किये पानी दें।

मकर राशि पर शुक्र का प्रभाव:-

आपकी राशि से आठवें भाव में शुक्र गोचर करेगा। इस दौरान आपको अपनी वासनात्मक इच्छाओ व क्रियाओं पर अपना नियंत्रण रखना होगा अन्यथा सेहत से जुड़ी परेशानियां हो सकती हैं।विवाहित हैं तो बच्चों को थोड़ी बहुत समस्याएं हो सकती हैं। निजी जीवन में भी कुछ टकराव संभव हैं फिर भी इसके आप एक-दूसरे के संग अच्छा समय बिताएंगे।सप्ताहांत में अचानक से लाभ व हानि दोनों हो सकती हैं। करियर में भी उतार-चढ़ाव आ सकते हैं। इस अवधि में आप कुछ अनुचित माध्यमों के साधन से लाभ उठा सकते हैं लेकिन वैसे उपयुक्त यही होगा कि आप ऐसी गतिविधियों से दूर रहें।अन्यथा बदनामी सम्भव है। आप यौन रोग से पीड़ित हो सकते हैं। एक हद तक ही सुख-सुविधाओं का लाभ उठाएं।

उपायः हर रोज़ शुक्र मंत्र ॐ शुं शुक्राय नमः का 108 बार जाप करें।काले कुत्ते को दूध दे।

कुंभ राशि पर शुक्र का प्रभाव;-

शुक्र आपकी राशि से सातवें भाव में प्रवेश करेगा। शुक्र का शुभ प्रभाव आपकी व्यक्तिगत ज़िंदगी पर पूर्ण रूप से पड़ेगा। इस दौरान विवाहित जीवन में बहार आएगी और अपनों के साथ वक्त बिताने का मौका मिलेगा। समाज में आपकी छवि सुधरेगी और व्यक्तित्व में निख़ार आएगा। जीवनसाथी से ज्याद बहस न करें नहीं तो आपके वैवाहिक जीवन में थोड़े बहुत टकराव संभव है।अधिकतर भाग्य का साथ मिलेगा। विपरीत लिंग के जातकों की मदद से आप अपने लक्ष्य को पाने में कामयाब रहेंगे।किसी परिजन की बीमारी बढ़ने से आपको तनाव रहेगा।

उपायः शुक्रवार को शुक्रदेव या पूर्णिमां देवी की पूजा करें।

मीन राशि पर शुक्र का प्रभाव:-

मीन राशि के छठे भाव में शुक्र गोचर करेगा। इस दौरान आप अधिक ऊर्जावान अनुभव करेंगे। खेलकूद या प्रतियोगी परिक्षाओं में सफलता मिलने के आशा हैं। अपनी किसी हॉबी या कलात्मक गुण के द्धारा लाभ उठा सकते हैं। व्यय बढ़ने के आसार हैं। विपरीत लिंग के साथ टकराव हो सकते हैं। किसी पुरानी बीमारी या फिर अन्य किसी कारण से सेहत बिगड़ सकती है।किसी प्रियजन से अलगाव की संभावना है। भौतिक सुख-सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए आपके पार्टनर काफी ख़र्चा कर सकते हैं इससे धन संतुलन बिगड़ेगा। परिजनों व भाई-बहनों को भी इस समय का अच्छा लाभ मिलेगा।

उपायः-सफेद गाय को आटे की लोई व गुड़ खिलाएं।

 

******

 

 

श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येंद्र जी महाराज

सत्य ॐ सिद्धायै नमः

 

Please follow and like us:
15578

Check Also

13 जुलाई को पड़ेगा सूर्यग्रहण, इन राशि वालों को हो सकती हैं परेशानियां, भूलकर भी न करें ये काम, श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज

          “13 जुलाई को सूर्यग्रहण पड़ रहा है यह भले ही …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enjoy khabar 24 Express? Please spread the word :)