Breaking News
BigRoz Big Roz
Home / Breaking News / हस्तरेखा के इस रहस्य को जानकर चौक जाएंगे आप, क्या हाथ की उंगली भी बता सकती है किसी का व्यक्तित्व : बता रहे हैं श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येंद्र जी महाराज

हस्तरेखा के इस रहस्य को जानकर चौक जाएंगे आप, क्या हाथ की उंगली भी बता सकती है किसी का व्यक्तित्व : बता रहे हैं श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येंद्र जी महाराज

 

 

 

 

 

“हस्तरेखा विज्ञान एक ऐसा ज्योतिष विज्ञान है जो आपके जीवन में होने वाली छोटी बड़ी घटनाओं की जानकारी देता है, आपके भविष्य के बारे में बताता है।”

 

 

 

आज हस्तरेखा विज्ञान को देश दुनिया में व्यापक तौर पर मान्यता मिली है, जैसे-जैसे इसका प्रभाव बढ़ रहा है वैसे-वैसे कुछ कथित ज्योतियों ने इसको अपनी कमाई का जरिया बना लिया।

लेकिन आज भी कुछ ऐसे संत महात्मा हैं जो लोगों की भलाई के लिए काम कर रहे हैं, बेशक इनकी संख्या गिनती में हो लेकिन आज समाज सिर्फ इन्हीं ज्ञानी, महाज्ञानी, संत, महत्माओं और विद्वानों के भरोसे पर जिंदा है।

श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज एक ऐसा ही नाम हैं जो लोगों की भलाई के लिए अपने जीवन को समर्पित किये हुए हैं।
स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज आज ऐसे ही एक रहस्य से पर्दा उठा रहे हैं जो शायद बहुत ही कम लोगों को मालूम हो।
स्वामी जी हस्तरेखा विज्ञान के कुछ चमत्कारों को उजागर कर रहे हैं, जिसका फायदा आप भी उठा सकते हैं।

 

हस्तरेखा ज्योतिष के अनुसार आपके हाथ की छोटी उंगली खोल देती है आपके बड़े-बड़े रहस्य, तो जानिए…

हस्तरेखा ज्योतिष में सबसे छोटी उंगली (कंग की उंगली) बुध ग्रह से सम्बंधित होती है और बुध ग्रह मनुष्य के सभी प्रकार के बौद्धिक क्षमताओं को देने वाला ग्रह होता है और साथ व्यक्ति के परिवारिक और सामजिक व्यवहारों के विषय में ज्ञान देता है,यो आपका व्यवहार कैसा होगा आपकी बुद्धि कुटिल है या सरल,यो आप व्यवहारिक है या व्यापारिक है ये पता चलता है।

यो कंग की ऊँगली की लंबाई को देखकर आपके बारे में कई चीजें मालूम हो सकती हैं। आपकी छोटी उंगली आपके स्वभाव के बारे में कई रहस्य खोलती है। आइए जानते हैं क्या कहती है आपकी लिटल फिंगर…

 

1-जिन लोगों की छोटी उंगली की अच्छा बनावट हो,यानि सीधी और लंबी हो, सुंदर हो, भरी हुई हो, ये लोग दूसरों को बहुत सहजता से प्रभावित करने वाले होते हैं।
2-जिन लोगों की छोटी उंगली सामान्य लंबाई से भी कम होती है तो ये लोग हर काम बहुत जल्दबाजी में करते हैं।नतीजा इनके काम बिगड़ जाते है, ये लोग बहुत ही नासमझ और क्रोधी व् अंदर ही घुटने वाले होते हैं।
3-जिन लोगों की तर्जनी उंगली आगे से नुकीली होती है, वे दिमाग के बहुत तेज,धनी,स्मरणशक्ति वाले होते हैं।
4-यदि किसी की छोटी उंगली, अनामिका उंगली से दूर है, ऐसे लोग अपने काम को पूरी आजादी से करना पसंद करते हैं।
5-जिन लोगों की छोटी उंगली और अनामिका उंगली (रिंग फिंगर), दोनों लगभग बराबर होती हैं उन लोगों की कुटिल राजनीति में बेहद दिलचस्पी होती है। ये लोग एक अच्छे नीतिज्ञ व् राजनीतिज्ञ और सलाहकार हो सकते हैं।
6-जिनकी छोटी उंगली, अनामिका उंगली की तरफ झुकी हुई दिखाई देती है, वे लोग किसी भी अपनी सोच या योजना से अच्छे बिजनेसमैन साबित होते हैं।
7-कुछ लोगों की छोटी उंगली बहुत ज्यादा लंबी होती है।वेसे ऐसा कम मिलता है,यो ऐसे लोग बहुत चालक किस्म और चापलूस आदत के होते हैं। ये लोग दूसरों से अपने काम को बड़े चतुराई से पूरा करा लेते हैं।ये विश्वनीय नहीं होते है।
8-यदि किसी की छोटी उंगली का पहला भाग ज्यादा लंबा है, ऐसे लोग बातों के शौकीन और कुशल वक्ता होते हैं।
9-यदि किसी की छोटी उंगली का दूसरा भाग यानि बीच का भाग ज्यादा लंबा हो तो वह दूसरे की योजना को अपना बनाकर लाभ लेता है।
10-जिनकी छोटी उंगली का अंतिम भाग निचला जड़ का भाग अधिक लंबा हो तो ऐसे लोग लेन देन के व्यापारिक बुद्धि और विषेकर खरीदारी के मामले में बहुत तेज होते हैं।
11-जिनकी छोटी ऊँगली में ऊपर चक्र हो,तो उसे सभी क्षेत्रो में सफलता मिलती है।
12-यदि शंख हो तो धन से अधिक प्रसिद्धि मिलती है।
13-यहाँ रेखाओं का बिगाड़ या मिटाव सा हो,तो उसे दिया धन वापस नहीं मिलता,या टूट टूट कर मिलता है।
14-ऊँगली के तीनों भागों में खड़ी रेखाएं हो तो उसे सभी क्षेत्रों के लोगों से अपनी व्यवहार कुशलता या किसी विद्या बल से या मित्रता से सदा धन की प्राप्ति होती है।
15-यदि पड़ी रेखाएं हो तो,उसके गुप्त शत्रु होते है और भाषा में कटुता,गालियां और लेखन में गलती से अधिकारी से दंड या लोगों से बुराइयां मिलती है।
16-ऊँगली के सबसे निचले भागइ रेखाओ में कटाव हो,तो दवाई चलती रहेंगी और मस्तिष्क में टेंशन से शरीर में विष बढ़ेगा।अचानक दवाई नुकसान दे जायेगीं।
17-ऊँगली का सबसे ऊपर का नाख़ून वाला भाग गोल हो तो,वह व्यक्ति विश्वसनीय होता है और उसकी मित्रता सदा शुभ होती है।
18-इस ऊँगली के लंबे नाख़ून उत्तम वक्ता और सरल बुद्धि और शिक्षा में कई बार विषय या विद्यालय परिवर्तन होते है और 27 या 32 वे वर्ष में सफल होता है।
19-नखुन में चन्द हो,तो परम्परागत ज्योतिष और प्रचलित धर्म या पैत्रक व्यवसाय या वेद्य शास्त्र से परे स्वयं के बुद्धि बल से नवीन सिद्धांत से धन और प्रसिद्धि पाता है।

 

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगों में शेयर करें और इस अद्भुत ज्ञान को अपने शुभचिंतकों, मित्रों, रिश्तेदारों में पहुंचाकर पूण्य लाभ कमाएं।

 

 

****

 

श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येंद्र जी महाराज

जय सत्य ॐ सिद्धायै नमः

Please follow and like us:
15578

Check Also

भारत ने पाकिस्तान को जमकर धोया या गिरा-गिराकर मारा? आज एशिया कप में आखिरकार ऐसा हुआ क्या?

      आज फिर से वो मौका था जब क्रिकेट के दो धुरंधर, और …

Enjoy khabar 24 Express? Please spread the word :)