Breaking News
BigRoz Big Roz
Home / Breaking News / साउथ अफ्रीका के खिलाफ 6 दिवसीय मैचों में 5-1 से मात देकर टीम इंडिया ने रचा इतिहास, शानदार जीत के साथ किया सीरीज का अंत

साउथ अफ्रीका के खिलाफ 6 दिवसीय मैचों में 5-1 से मात देकर टीम इंडिया ने रचा इतिहास, शानदार जीत के साथ किया सीरीज का अंत

 

 

कप्तान विराट कोहली की इस शानदार टीम ने वो कमाल कर दिखाया जो भारतीय टीम साउथ अफ्रीका में इतने अर्से से नहीं कर पाई। टीम इंडिया ने अपनी शानदार बल्लेबाजी और जबरदस्त गेंदबाजी का प्रदर्शन करते है मात्र 1 मैच हारकर 5 वनडे मैचों में अपना दबदबा कायम रखा।

 

 

 

भारतीय गेंदबाजों ने साउथ अफ्रीका की जमीन पर यह साबित कर दिया कि वे बेहतरीन गेंदबाज ही नहीं बल्कि दुनिया के सर्वश्रेठ गेंदबाजों में से हैं। रही सही कसर भारतीय बल्लेबाजों ने पूरी कर दी। जिस टीम के पास विराट कोहली, रोहित शर्मा, शिखर धवन, धोनी जैसे सरीखे बल्लेबाज हों वो टीम दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीम ही कहलाएगी।

बता दें कि टीम इंडिया ने सीरीज अपने नाम तो पिछले मैच में ही कर ली थी लेकिन जीतने की आदत अच्छी होती है। और यही जज्बा हमारे कप्तान विराट कोहली में दिखता भी है।

विराट कोहली की शानदार शतकीय पारी और युवा तेज गेंदबाज शार्दुर ठाकुर के घातक गेंदबाजी की बदौलत टीम इंडिया ने शुक्रवार को सेंचुरियन के सुपर स्पोर्ट पार्क स्टेडियम में खेले गए 6 वन-डे मैचों की सीरीज के आखिरी वन-डे में दक्षिण अफ्रीका को 8 विकेट से करारी शिकस्त दी। इसके साथ ही टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज 5-1 से अपने नाम कर ली। मेजबान टीम के 205 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया ने 32वें ओवरों में ही 206 रन बनाकर मैच जीत लिया।

टीम इंडिया की तरफ से बल्लेबीज करने आए ओपनर रोहित शर्मा जल्दी ही आउट हो गए। वह केवल 15 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए कप्तान विराट कोहली ने शिखर धवन के साथ मिलकर पारी संभाली। वहीं, 80 के स्कोर पर टीम इंडिया को दूसरा झटका लगा। लुंगी एन्गिडि ने शिखर धवन को खाया जोन्डों के हाथों कैच आउट कराकर पवेलियन का रास्ता दिखाया। धवन केवल 18 रन ही बना पाए।

इसके बाद बल्लेबाजी करने आए अजिंक्य रहाणे ने कप्तान कोहली के साथ मिलकर पारी को आगे बढ़ाया। दोनों बल्लेबाजों के बीच तीसरे विकेट के लिए 126 रनों की साझेदारी हुई। कोहली ने 96 गेंदों में 19 चौकों और 2 छक्कों की मदद से शानदार 129 रनों की नाबाद पारी खेली। विराट ने इस मुकाबले में अपने वन-डे इंटरनेशनल करियर का 35वां शतक जमाया। इसके साथ ही कप्तान विराट कोहली को मैन ऑफ द सीरीज और मैन ऑफ द मैच भी चुना गया। वहीं, अजिंक्य रहाणे ने 81 गेंदों में 3 चोकों की मदद से 34 रन बनाए। दक्षिण अफ्रीका की तरफ से लुंगी एन्गिडि ने 2 विकेट झटके।

इससे पहले टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी दक्षिण अफ्रीका ने निर्धारित 50 ओवर में 204 रन बनाए। दक्षिण अफ्रीका की तरफ से बल्लेबाजी करने आए सलामी बल्लेबाज हाशिम अमला सस्ते में 10 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। उनको युवा तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर ने विकेटकीपर बल्लेबाज धोनी के हाथों कैच आउट कराकर पवेलियन भेजा। इसके बाद कप्तान मार्करम भी 24 रन बनाकर आउट हो गए।

प्रोटियाज टीम की तरफ से सबसे अधिक रन खाया जोन्डों ने बनाए। उन्होंने 74 गेंदों में 3 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 54 रन की पारी खेली। इसके अलावा एबी डीविलियर्स (30), हेनरिच क्लासेन (22) और एन्डिल फेह्लुक्वायो ने 34 रन बनाए। वहीं टीम इंडिया की तरफ से युवा तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर ने 52 रन देकर सबसे अधिक 4 विकेट झटके, जबकि जसप्रीत बुमराह और युजवेन्द्र चहल ने 2-2 विकेट हासिल किए। वहीं, हार्दिक पांड्या और कुलदीप यादव को 1-1 विकेट मिला।

इससे पहले टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। कप्तान विराट कोहली ने टीम में एक बदलाव किया। भुवनेश्वर कुमार की जगह युवा तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर को मौका दिया। वहीं, दक्षिण अफ्रीका ने अपनी टीम में चार बदलाव किए। तबरेज शम्सी की जगह इमरान ताहिर, डेविड मिलर की जगह खाया जोन्डों, जेपी डुमिनी की जगह फरहान बेहरादीन और कागिसो रबाडा की जगह क्रिस मॉरिस को शामिल किया।
टीम इंडिया सीरीज पर पहले ही कर लिया था कब्जा

 

बता दें कि इससे पहले टीम इंडिया सीरीज में पहले ही अपने नाम कर चुकी थी। ‘मेन इन ब्लू’ ने डरबन में पहला मैच 6 विकेट से, दूसरा मैच सेंचुरियन में 9 विकेट से और तीसरा मैच केपटाउन में 124 रन से जीता था, लेकिन प्रोटियाज टीम ने बारिश से प्रभावित चौथे पिंक वन-डे में पांच विकेट से जीत हासिल कर मैच में वापसी की थी। वहीं, पांचवें वन-डे में टीम इंडिया ने प्रोटियाज टीम को 73 रनों से हराकर इतिहास रचा था।

Please follow and like us:
15578

Check Also

प्रचलित भस्त्रिका प्राणायाम और सत्यास्मि प्राणायाम में भिन्नता और इसका मतलब समझा रहे हैं श्री सत्यसाहिब स्वामी सत्येन्द्र जी महाराज

        भस्त्रिका प्राणायाम-प्रचलित भस्त्रिका प्राणायाम और सत्यास्मि प्राणायाम भिन्नता -इस विषय पर पद्य …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enjoy khabar 24 Express? Please spread the word :)